तंत्रिका तंत्र संबंधित कुछ महत्वपूर्ण तथ्य



तंत्रिका तंत्र

न्यूरान (100 अरब) – सबसे लंबी कोशिका

1)    केन्द्रिय तंत्रिका तंत्र
1. मस्तिष्क
2. मेरूरज्जु

2)    परिथिय तंत्रिका तंत्र
1. क्रेनियल (मस्तिष्क) – 12 जोड़ी, दो ध्रुवी (संवेदी व चालक)
2. स्पाईनल (मेरूरज्जु) – 31 जोड़ी, एक ध्रवी (संवेदी)

3)    स्वयात तंत्रका तंत्र अनुकंपी
1. (अच्छा अनुभव नही होता)
2. परानुकंपी (अच्छा अनुभव होता है)
1.     मस्तिष्क
1. भार - 1350 से 1450 ग्राम
2. आवरण – 1. क्रेनियम 2. मेनिनजिस (डयूरामेट, आरकेनाइड, पायकेटर)
3. भाग – अग्र, मध्य, पश्च
अग्र भाग में –
  1. सेरेब्रम (मस्तिष्क का सबसे बड़ा भाग, यह याद को सुरक्षित रखता है)
  2. डाइएन्येकिलान
  3. ओल कैक्ट्रोलोब




अग्र भाग -

·        सेरेब्रम (प्रमस्तिष्क) – यह मस्तिष्क का सबसे बड़ा भाग है इसका कार्य याद को सुरक्षित रखना है।

·        डाईएक्सेकिलान – इसके अंतर्गत हाईपोथैलमस व थैलमस आते हैं। हाईपोथैलमस भूख प्यास और ताप का नियंत्रण करता है। इसे थर्मोस्टेट ऑफ बॉड़ी भी कहते हैं। यह पीयूष ग्रंथी के कार्यों पर नियंत्रण करता है इसलिए इसे मास्टर ऑफ मास्टर ग्रंथी भी कहते हैं। थैलमस हमें ठंडे गर्म का अहसास कराता है। इसे सुचनाओ का रिले सेंटर भी कहते हैं।

·        ऑल फैक्ट्री लोब – मस्तिष्क का यह भाग गंध का ज्ञान कराता है।

मध्य भाग -

·        सेरेबेलम – इसका कार्य सुचनाओ का आदान प्रदान करना है।

·        कार्पोराक्वार्डीजेमेना – यह हमे दृष्टि और श्रवण का ज्ञान कराती है।

पश्च भाग -

·        सेरेब्रेलम – यह भाग कान के साथ मिलकर शरीर का संतुलन बनाता है। शरीर का संतुलन बनाने वाला प्रमुख अंग कान है।

·        मेडुलाआवालागांटा – यह मनुष्य कि अनैच्छिक क्रियाओं का नियंत्रण करता है जैसे – रक्त दाब, हृदय गति, श्वसन दर (पोन्स नियंत्रक अंग है श्वसन दर का) का नियंत्रण पोन्स द्वारा होता है।

·        मेरुरज्जु – मेरूरज्जू का कार्य प्रतिवर्ती क्रियाओं का नियंत्रण करना है। इसकी दर 130 से 200 मीटर सेकेंड होती है।

·        परिथिय तंत्रिका तंत्र – में क्रेनियल तंत्रिकाओं की संख्या 12 जोडी और स्पाईनल तंत्रिकाओं मे 31 जाडी होती है।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

किस खेल में कितने खिलाड़ी?

संख्याओं में अल्प विराम (कोमा) कहाँ लगाएँ ?

भारतीयों के लिए हज यात्रा कोटे में इजाफा

NCERT की पुस्तकें

70 महत्वपूर्ण वैज्ञानिक उपकरणों के नाम और काम।