संख्याओं में अल्प विराम (कोमा) कहाँ लगाएँ ?


दरअसल में यह मुद्दा संख्या पद्धति का है। अगर आप यह नही जानते की भारतीय संख्यांकन और अंतर्राष्ट्रीय पद्धति में क्या अंतर होता है, तो यह लेख आपको इस समस्या से राहत दिलाने वाला है।
भारतीय संख्यांकन पद्धति मतलब संख्याओं को लिखते समय कोमा ( , ) किस स्थान पर उचित है। और अगर वही संख्या अंतर्राष्ट्रीय पद्धति में लिखी जाए तो कोमा कहां लगाना चाहिए।

भारतीय संख्यांकन में हम इकाई, दहाई, सैकडा, हजार, लाख, करोड में अल्प विराम अर्थात कोमा का प्रयोग हम इस प्रकार करते हैं कि दाएं से चलते हुए पहले तीन अक्षर के बाद अल्प विराम लगाते हैं फिर दो अक्षरों के अंतराल में यह क्रम चलता रहता है।
जैसे की अगर दस लाख का संख्यांकन भारतीय पद्धति के अनुसार इस प्रकार होगा -
10,00,000

और अगर  हम अंतर्राष्ट्रीय रूप से इस संख्या का संख्यांकन करते हैं तो, दाएं से तीन के क्रम में अल्प विराम लगाते चलते हैं। -
1,000,000
अंतर्राष्ट्रीय संख्या के रूप में हम इसे वन मिलियन पढ़ते हैं।

एसे ही सौ मिलियनों से बड़ी संख्याओं को व्यक्त करने के लिए, अंतर्राष्ट्रीय पद्धति में बिलियनों का प्रयोग करते हैं।
1 बिलियन = 1000 मिलियन
1 बिलयन = 1,000,000,000 (अंतर्राष्ट्रीय पद्धति)
1 बिलियन = 1,00,00,00,000 (भारतीय पद्धति)
1 बिलियन = 100 करोड़

और अगर आप भारतीय पद्धति के सभी क्रम नही जानते तो आप निचे दिए हुए टेबल से आसानी से समझ सकते हैं।
भारतीय संख्या पद्धति में और अन्तरराष्ट्रीय संख्या पद्धति में अंतर निम्न होंगे -
भारतीय पद्धति भारतीय संख्यांकनगणितीय संख्याअंतर्राष्ट्रीय संख्या पद्धति
एक1100एक
दस10101दस
सौ100102सौ
हज़ार1,000103हज़ार
लाख1,00,000105एक सौ हज़ार या मिलियन का दसवाँ हिस्सा
करोड़1,00,00,000107दस मिलियन
अरब1,00,00,00,000109एक बिलयन
खरब1,00,00,00,00,0001011सौ बिलयन या ट्रिलयन का दसवाँ हिस्सा
नील1,00,00,00,00,00,0001013दस ट्रिलयन
पद्म1,00,00,00,00,00,00,0001015एक क्वॉड्रिलयन
शंख1,00,00,00,00,00,00,00,0001017सौ क्वॉड्रिलयन या क्विंटिलयन का दसवाँ हिस्सा
महाशंख या अल्द या उपाध1,00,00,00,00,00,00,00,00,0001019दस क्विंटिलयन
अंक या महाउपाध1,00,00,00,00,00,00,00,00,00,0001021एक सेक्सटिल्यन
जल्द1,00,00,00,00,00,00,00,00,00,00,0001023सौ सेक्सटिल्यन
माध1,00,00,00,00,00,00,00,00,00,00,00,0001025दस सेप्टिलयन
परार्ध1,00,00,00,00,00,00,00,00,00,00,00,00,0001027एक ऑक्टिलयन
अंत1,00,00,00,00,00,00,00,00,00,00,00,00,00,0001029सौ ऑक्टिलयन
महा अंत1,00,00,00,00,00,00,00,00,00,00,00,00,00,00,0001031दस नॉनिलयन
शिष्ट1,00,00,00,00,00,00,00,00,00,00,00,00,00,00,00,0001033एक डेसिलयन
सिंघर1,00,00,00,00,00,00,00,00,00,00,00,00,00,00,00,00,0001035सौ डेसिलयन
महा सिंघर1,00,00,00,00,00,00,00,00,00,00,00,00,00,00,00,00,00,0001037दस अनडेसिलयन
अदंत सिंघर100,00,00,00,00,00,00,00,00,00,00,00,00,00,00,00,00,00,00,0001041सौ डुओडेसिलयन

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

किस खेल में कितने खिलाड़ी?

भारतीयों के लिए हज यात्रा कोटे में इजाफा

NCERT की पुस्तकें

70 महत्वपूर्ण वैज्ञानिक उपकरणों के नाम और काम।