क्या आप जानते है पंचवर्षीय योजनाओं के बारे में ये बातें ?



पंचवर्षीय योजनाएँ
·        1 अप्रैल से 31 मार्च
·        पहली – 1 अप्रैल 1951 से 31 मार्च 1956
·        दूसरी – 1 अप्रैल 1956 से 31 मार्च 1961
·        तीसरी – 1 अप्रैल 1961 से 31 मार्च 1966 (1962 चीन युद्ध, 1964 नेहरू मृत्यु, 1965 में पाकिस्तान युद्ध)
·        1966 से 1967, 1967 से 1968, 1968 से 1969, योजना अवकाश
·        चौथी – 1969 से 1974
·        पाँचवी – 1974 से 1979, 1979 से 1980 योजना अवकाश
·        छठी – 1980 से 1985
·        सातवीं – 1985 से 1990 (90-91,91-92 आर्थिक उदारीकरण)
5 वीं योजना को मोरार जी देशाई द्वारा 4 वर्ष में ही बंद कर दिया गया।
इंदरा गांधी सरकार द्वारा पांचवी योजना के आंकडों को पुनः सही किया गया।
6 वीं योजना को दो बार लागू किया गया था
·        8 वीं 1992 – 1997
·        9 वीं 1997 – 2002
·        10 वीं 2002 से 2007
·        11 वीं 2007 से 2012
·        12 वीं 2012 से 2017
प्रथम पंचवर्षीय योजना डोमर संवृद्धि मॉडल पर आधारित थी।
·        पहली योजना में कृषि के विकास पर बल दिया गया, पहली योजना के दौरान निम्न तीन बहुउद्देशिय नदी घाटी परियोजनाएं शुरू की गईं
1.     भाखड़ा नंगल डैम पिरयोजना
2.     हीराकुंड परियोजना
3.     दामोदर घाटी परियोजना
·        पहली पंचवर्षीय योजना के दौरान 1952 में सामुदायिक विकास कार्यक्रम की सुरूआत करी गई। (कृषि विकास पर आधारित)
·        दूसरी पंचवर्षीय योजना महालनोबिस मॉडल पर आधारित थी, दूसरी योजना के दौरान राउलकेला (उड़ीसा), भिलाई (छत्तीसगढ़), दुर्गा पुर (पश्चिम बंगाल) में इस्पात कारखानो कि स्थापना की गई व पश्चिम बंगाल में चितरंजन लोकोमोटिव कि स्थापना की गई। (उद्दयोग विकास पर आधारित)
·        तीसरी पंचवर्षीय योजना आगत निर्गत के मॉडल पर आधारित थी, इस योजना में स्वावलंबी व आत्म निर्भरता पर बल दिया गया। बोकारो स्टील प्लांट कि भी शुरूआत हुई (रूस के सहयोग से), तीसरी योजना में पहली बार 5% से अधिक राष्ट्रिय आय में वृद्धि का लक्ष्य रखा गया था। (आयात निर्यात के विकास पर आधारित)
·        चौथी पंच वर्षीय योजना – गॉडगिल मॉडल पर आधारित थी, इस योजना में पहली बार बैंकों का राष्ट्रियकरण किया गया, इस योजना के दौरान बफर स्टाक बनाया गया, इस योजना में भारत सरकार द्वारा परिवार नियोजन कार्यक्रम की शुरूआत कि गई(1974)।
·        पाँचवी पंच वर्षीय योजना – गुनार मॉडल पर आधारित थी, इस योजना के दौरान गरीबी हटाओ का नारा दिया गया, इस योजना को अनवरत योजना (Rolling plan) भी कहा जाता है। इस योजना के दौरान 1977 में काम के बदले अनाज योजना प्रारंभ की गई।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

किस खेल में कितने खिलाड़ी?

संख्याओं में अल्प विराम (कोमा) कहाँ लगाएँ ?

भारतीयों के लिए हज यात्रा कोटे में इजाफा

NCERT की पुस्तकें

70 महत्वपूर्ण वैज्ञानिक उपकरणों के नाम और काम।